Viral 18

UP के साइबर सेल की बड़ी कार्यवाही, 1788 इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर पर शिकंजा 

 

डेस्क । आगरा साइबर सेल ने आनलाइन बैटिंग-गेमिंग वेबसाइट और एप पर लोगों से धोखाधड़ी करने वाले नेटवर्क को पूरी तरह से ध्वस्त करने की दिशा में बड़ा कदम उठाया है। देश भर के 1788 इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर को इस तरह की वेबसाइट और एप को बंद करने का नोटिस भी संबंधित मंत्रालय से भेजे जा रहे है।

साइबर सेल द्वारा मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के यहां प्रार्थना पत्र दिया गया था वहीं न्यायालय ने इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर को उक्त वेबसाइट बंद कराने से संबंधित आदेश भी जारी किया है।

आगरा में पकड़ा था मामला

आगरा साइबर सेल ने आनलाइन बैटिंग-गेमिंग और एप और री-स्ट्रीमिंग के माध्यम से लोगों से कई सौ करोड़ रुपये की धोखाधडी का पता भी लगाया है। इस वर्ष जून में शाहगंज में दर्ज एक मुकदमे की जांच के दौरान यह पता चला था। शाहगंज थाने में स्टार इंडिया कंपनी के अधिक़ृत हाट स्टार लाइव कंटेंट, लाइव गेम एक थर्ड पार्टी एप एकबैट व वेब पोर्टल के माध्यम ग्राहकों को चोरी से दिखाए जा रहे थे।

जांच में पता चला था कि विदेशी सर्वर (चाइना, वियतनाम, फिलीपिंस, रूस) के जरिए पूरा खेल चल हो रहा है। लाइव री-स्ट्रीमिंग के जरिए अवैध बेटिंग और गेमिंग एप भी संचालित हो रहे हैं।

नेटवर्क को ध्वस्त करने की हो रही तैयारी

इन वेबसाइट और एप के सर्वर विदेश में थे। यह लोगों को आनलाइन बैटिंग-गेमिंग और एप पर खिलाकर उनसे दांव लगवा रहे थे वहीं साइबर सेल ने यूजर बनकर इन वेबसाइट और एप का हिस्सा बनी। उनके नेटवर्क की तह तक पहुंची और साइबर सेल ने इस तरह की 27 वेबसाइट और नौ एप भी बंद कराए थे। इसके बाद देश भर में फैले नेटवर्क को ध्वस्त करने की तैयारी करी गई।

एप को बंद कराने का आदेश

डीसीपी सिटी सूरज कुमार राय ने यह बताया कि आनलाइन बैटिंग-गेमिंग वेबसाइट और एप को बंद कराने के लिए सभी सर्विस प्राेवाइडर को इसकी जानकारी देनी थी। इसके लिए पुलिस की ओर से मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के यहां प्रार्थना पत्र भी प्रस्तुत किया गया। इसमें देश भर के 1788 इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर पर सक्रिय इन बेवसाइट और एप को बंद कराने के लिए आदेश पारित करा गया है।

इस आदेश के साथ साइबर सेल ने गृह मंत्रालय, मिनिस्ट्री आफ इलेक्ट्रानिक एंड इंफार्मेशन टेक्नोलाजी और दूरसंचार मंत्रालय के माध्यम से इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर से इस तरह की वेबसाइट बंद कराने काे पत्र भी लिखा है।

What's your reaction?

Related Posts

1 of 190