राजनीतिराज्य

संदेशखाली मामले में ED ने की बड़ी कार्यवाही 

 

डेस्क। पश्चिम बंगाल के गिरफ्तार टीएमसी नेता शेख शाहजहां के खिलाफ जमीन हड़पने के मामले में ईडी ने शिकंजा कसना शुरू किया है। ईडी गुरुवार सुबह से शेख शाहजहां के ठिकानों पर छापेमारी भी कर रही है। 

वहीं इससे पहले ईडी की टीम उसके आवास पर छापेमारी करने के लिए गई थी तो इलाके में उसके समर्थकों ने एजेंसी के अधिकारियों और उनके साथ गए सीएपीएफ कर्मियों पर पथराव भी किया था।

पश्चिम बंगाल के गिरफ्तार टीएमसी नेता शेख शाहजहां के खिलाफ जमीन हड़पने के मामले में ईडी ने शिकंजा भी कसना शुरू कर दिया है। ईडी गुरुवार सुबह से शेख शाहजहां के ठिकानों पर छापेमारी भी कर रही है।

 इसी के साथ ईडी की टीम बंगाल में उत्तर 24 परगना जिले के बनगांव स्थित उसके आवास पर छापेमारी करने के लिए गई थी तो इलाके में उसके समर्थकों ने एजेंसी के अधिकारियों और उनके साथ गए सीएपीएफ कर्मियों पर पथराव करना शुरू कर दिया।

सीएम योगी देंगे यूपी के उद्योगों को एक बड़ी सौगात 

राशन घोटाला और संदेशखाली मामले का आरोपी टीएमसी नेता शाहजहां शेख कई दिनों तक गायब रहा पर बाद में उसे बंगाल पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। शाहजहां शेख पर संदेशखाली में महिलाओं का यौन उत्पीड़न करने तक के आरोप भी लगे हैं। साथ ही उस पर जमीन गबन का आरोप लगाया गया हैं।

शाहजहां बांग्लादेश से संदेशखाली को आया था और यहां आकर मजदूरी करने लगा था। इसे देखते ही देखते उसने अपार संपत्ति भी जुटा ली है। संदेशखाली में खौफ का दूसरा नाम बन चुका है। शाहजहां ने बांग्लादेश से बंगाल आकर अपने खौफ का सम्राज्य भी खड़ा कर दिया। उत्तर 24 परगना का संदेशखाली बांग्लादेश की सीमा से जुड़ा हुआ है, इसी वजह से वो यहां आकर के रहने लगा।

Muslims on CAA: गृह मंत्रालय ने देश के मुसलमानों से बोली बड़ी बात

शुरू में शाहजहां ने खेतों और ईंट-भट्ठों पर मजदूर की तरह काम भी किया। ईंट-भट्ठों के मजदूरों के साथ काम करते करते उसने एक यूनियन बना ली और फिर इलाके में मेलजोल बनाकर उसने माकपा में एंट्री भी पा ली। बता दें शेख बंगाल के पूर्व मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक का हाथ पकड़कर तृणमूल में आया था।

What's your reaction?

Related Posts

1 of 953