राज्य

यूपी में भाई बहन के फेरे करवाने के बाद गुस्से में भाजपाई 

 

 

डेस्क। यूपी के महराजगंज में सामूहिक विवाह में भाई-बहन के फेरे कराने के मामले में योगी सरकार ने बड़ा एक्शन लिया है। इस मामले में जहां दो अधिकारियों पर गाज गिरी है, वहीं दूल्हा-दुल्हन पर भी केस दर्ज किया गया ह।

International News: टिकटोक पर लगा 11 मिलियन डॉलर का जुर्माना

यूपी के महराजगंज (Maharajganj) जिले में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना (Chief Minister Mass Marriage Scheme) में एक बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया था, जिसमें गृहस्थी के सामान और अनुदान के लालच में बिचौलियों द्वारा भाई-बहन के फेरे करवाएं गए थे। वहीं इस मामले में प्रशासन की ओर से बड़ा एक्शन लिया गया है। लक्ष्मीपुर के बीडीओ की रिपोर्ट के आधार पर डीडीओ ने ग्राम पंचायत अधिकारी को सस्पेंड किया वहीं भाई-बहन के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज किया गया है।

ED Summons Arvind Kejriwal: क्यों ED के सामने नही आ रहे अरविंद केजरीवाल 

इसके साथ ही पति और पत्नी के सत्यापन में लापरवाही पर मनरेगा के तकनीकी सहायक को ब्लॉक से हटाकर जिला मुख्यालय में अटैच किया गया है। इसके साथ ही बीडीओ ने विवाह में दिया गया गृहस्थी का सामान वापस मंगवा लिया है और अनुदान के रूप में दिए जाने वाले 35 हजार रुपये के भुगतान पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने की संस्तुति भी की गई है।

38 जोड़ों की हुई शादी

आपको बता दें कि बीते 5 मार्च को मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत लक्ष्मीपुर ब्लॉक में 38 जोड़ों की शादी भी हुई थी। इसमें लक्ष्मीपुर क्षेत्र के एक गांव की युवती का भी रजिस्ट्रेशन कराया गया था।

What's your reaction?

Related Posts

1 of 725