राज्य

Bihar Train Accident: ड्राइवर ने क्यों लगाया ब्रेक, गईं चार जानें

 

डेस्क। Bihar Train Accident: दिल्ली के आनंद विहार स्टेशन से असम के कामाख्या जा रही नॉर्थ ईस्ट एक्सप्रेस के कई डिब्बे बुधवार रात पटरी पर से उतर गए। अधिकारियों ने यह बताया कि दुर्घटना में चार लोगों की मौत हुई है। 40 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। हादसे के बाद भारतीय रेलवे ने 10 ट्रेनों को रद्द कर दिया और 21 ट्रेनों के मार्ग परिवर्तित भी कर दिए गए हैं। NDRF, SDRF और रेलवे की टीमों ने सुबह 2 बजे तक बचाव अभियान को पूरा कर लिया था, तब से रघुनाथपुर स्टेशन पर बहाली का काम जारी है।

रेलवे की प्रथम दृष्टया जांच से यह पता चलता है कि बुधवार रात करीब 9:40 बजे जब ट्रेन 128 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही थी तो इंजन ड्राइवर को इमरजेंसी ब्रेक लगाना पड़ गया था। डिरेल हुई ट्रेन के गार्ड विजय कुमार ने हादसे का आंखों देखा हाल बताया है। उन्होंने बताया, “ट्रेन नॉर्मल स्पीड से चल रही थी। मैं बैठ कर अपना कुछ काम कर रहा था, तभी अचानक से एक ब्रेक लगी और गाड़ी में धीरे-धीरे झटके आने लग गए और फिर एक बड़ा झटका भी लगा। मैं उसी समय बेहोश हो गया। पांच मिनट बाद मुझे होश आया तो मैंने पानी से आंखों पर छींटे मारे और मुझे नहीं पता कि ड्राइवर ने अचानक से ब्रेक क्यों मारी।” गार्ड ने कहा कि इस बारे में वो ही अच्छे से बता सकता है कि ऐसा क्यों हुआ और क्यों उसे इस तरह ट्रेन को ब्रेक मारनी पड़ी।

Israel Hamas War: गाजा के डॉक्टर्स ने दुनिया से लगाई गुहार 

Bihar Train Accident: दुर्घटना में मारे गए चार यात्रियों में दिल्ली की एक महिला और उसकी बेटी

इस दुर्घटना में मारे गए चार यात्रियों में दिल्ली की एक महिला और उसकी जुड़वां बेटियों में से एक शामिल हैं। वहीं तीसरा पीड़ित किशनगंज का है और चौथे यात्री की पहचान अभी तक नहीं हो पाई है। ट्रेन को रघुनाथपुर से लगभग 40 किमी दूर आरा रेलवे स्टेशन पर रुकने का कार्यक्रम था। लेकिन ट्रेन के सभी डिब्बे और इंजन पटरी से उतर गए और तीन एसी डिब्बे किनारे हो गए। सबसे ज्यादा नुकसान एसी डिब्बों को पहुंचा।

Related Posts

1 of 770