देश - विदेश

Pakistan Ramadan News: रमजान में हुईं खाद्य पदार्थों में इतने प्रतिशत की बढ़ोतरी

 

 

Pakistan Ramadan News: रमजान के कारण पाकिस्तान में प्याज की कीमत 150 पीकेआर (पाकिस्तानी रुपये) से बढ़कर 300 रुपये तक हो गई हैं। वहीं कुछ विक्रेता इसमें थोड़ी छूट देकर इसे 250 पीकेआर प्रति किलो के दाम पर बेच रहे हैं।

बता दें मुसलमानों का पवित्र महीना रमजान रविवार से शुरू हो चुका है। पाकिस्तान में पहले से ही सब्जियों, दूध, चीनी, खाद्य तेल, घी, मांस, अंडे और दालों की कीमतों में दो से तीन गुना तक बढ़ोतरी देखने को मिली है। वहीं अब रमजान के लिए पाकिस्तान के लोग खुद को आवश्यक वस्तुओं की बढ़ोतरी के लिए तैयार करने में लगे हैं।

भारत का आईटी हब झेल रहा पानी की मार

रमजान के महीने में आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में आया उछाल

कुछ भ्रष्ट व्यापारियों द्वारा जल्दी पैसा कमाने की कोशिश के कारण देश भर में सभी वस्तुओं की कीमतों में भारी बढ़ोतरी भी हुई है। इससे निम्न और मध्यम आय वाले उपभोक्ताओं को परेशानियों का सामना करना पड़ है। 

रमजान महीने में कीमतों में एक बार फिर से बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। हाल के महीनों में सामान्य तौर पर 31.5 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है और कई खाद्य पदार्थों की दरों में रमजान से पहले ही 60 फीसदी की वृद्धि भी देखने को मिली। 

सब्जियों और फलो के दामों में हुई वृद्धि

रमजान के कारण पाकिस्तान में प्याज की कीमत 150 पीकेआर (पाकिस्तानी रुपये) से बढ़कर अब 300 रुपये तक हो चुकी हैं। हालांकि, कुछ विक्रेता इसमें थोड़ी छूट देकर इसे 250 पीकेआर प्रति किलो से बेच भी रहे हैं। इसके अलावा फल, सब्जियों और अन्य आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में भी काफी वृद्धि हुई है। आलू की कीमत 50 पीकेआर से बढ़कर 80 रुपये तक हो गई है। 

वहीं गोभी की कीमतों में भी काफी बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। रमजान के कारण गोभी की कीमत 80-100 पीकेआर किलो से बढ़कर 150 पीकेआर हो चुकी है। 

Chrome हो गया है स्लो, फॉलो करें ये टिप्स

हरी मिर्च को यहां 200 पीकेआर के बदले 320 पीकेआर प्रति किलो के हिसाब से बेचा भी जा रहा है। शिमला मिर्च भी 400 पीकेआर प्रति किलो के हिसाब से मिल रहा है।

What's your reaction?

Related Posts

1 of 665