देश - विदेश

Mujib: भारत और बांग्लादेश के सहयोग से बनी ये कमाल की फिल्म 

 

डेस्क। भारत और बांग्लादेश के सहयोग से एक कमाल की फिल्म ‘Mujib: The Making of a Nation’ का दमदार ट्रेलर रिलीज हो गया है। यह फिल्म 27 अक्तूबर को रिलीज होने होगी। और आपको बता दें कि इस फिल्म का निर्देशन श्याम बेनेगल के द्वारा किया है।

यह फिल्म बांग्लादेश को अलग राष्ट्र बनाने के लिए अपना पूरा जीवन समर्पित करने वाले और ‘बंगबंधु’ के नाम से लोकप्रिय नेता शेख मुजीबुर्रहमान पर बनी है।

 The Making of a Nation: बायोपिक पर आधारित है फिल्म

‘Mujib: The Making of a Nation’ एक बायोपिक है। भारत और पाकिस्तान के बंटवारे के बाद पूर्वी पाकिस्तान के लोगों के हित के लिए अनवरत संघर्षरत रहे शेख मुजीबुर्रहमान को पाकिस्तान के सैन्य शासकों ने बहुत प्रताड़ित भी किया गया । और वह आजादी मिलने के बाद से बांग्लादेश बनने तक के समय में बार-बार जेल भी गए। जिंदगी के करीब 11 साल जेल में बिताने वाले शेख मुजीबुर्रहमान को बांग्लादेश का राष्ट्रपिता भी बोला जाता है।

 The Making of a Nation: ऐतिहासिक घटनाओं का प्रमाण है ये फिल्म

डायरेक्टर श्याम बेनेगल ने अपनी फिल्म के बारे में यह बात करते हुए बोला है कि, ‘मुझे इस फीचर फिल्म में काम करके बहुत मजा आया। भारत के राष्ट्रीय फिल्म विकास निगम और बांग्लादेश फिल्म विकास निगम के साथ काम करना बेहद ही मजेदार रहा। ‘फिल्म समकालीन ऐतिहासिक घटनाओं को यथासंभव प्रामाणिक रूप से पेश है’। बेनेगल अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहते है कि, ‘शेख मुजीबुर रहमान न केवल एक किंवदंती हैं, बल्कि इसके पीछे के व्यक्ति भी हैं’। साथ ही एक राष्ट्र का जन्म। मैंने इन ऐतिहासिक क्षणों को बहुत ईमानदारी से पर्दे पर उकेरने की की कोशिश की है। मुझे यकीन है कि यह फिल्म हर किसी को पसंद भी आ जाएगी’।

Mujib film

जानिए आखिर कौन थे शेख मुजीबुर्रहमान

1947 में बंटवारे के बाद पाकिस्तान दो हिस्सों में बंट गया था- पश्चिमी पाकिस्तान और पूर्वी पाकिस्तान, जो बाद में बांग्लादेश बना। अपने अस्तित्व में आने के बाद से ही पश्चिमी पाकिस्तान ने पूर्वी पाकिस्तान पर अत्याचार करना भी शुरू कर दिया। जुर्म इस हद तक बढ़ने लगा कि सैकड़ों हत्याएं की गईं और महिलाओं के साथ अत्याचार भी किया जाने लगा। उस दौर में जब मासूमों पर सितम ढाया जा रहा था तब एक करिश्माई शख्स उन लोगों के साथ मसीहा बनकर खड़ा हुआ था जिसका नाम था- शेख मुजीबुर्रहमान, जिसे लोगों ने बंगबंधु की उपाधि से भी नवाजा। शेख मुजीबुर्रहमान बिना थके तब तक लड़ते रहे जब तक बांग्लादेश को एक अलग राष्ट्र स्थापित नहीं कर दिया गया।

Amitabh Bachchan New Flipkart Ad: फ्लिपकार्ट का ये ऐड अमिताभ को पड़ा महंगा 

What's your reaction?

Related Posts

1 of 665