देश - विदेश

US और इजराइल के बीच एक और बैठक, जानिए इनसाइडर

डेस्क। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन और इसराइली प्रधानमंत्री बिन्यामिन नेतन्याहू के बीच इसराइल और हमास के बीच जारी युद्ध पर सोमवार को उच्च स्तरीय वार्ता होने की सूचना मिली है।

व्हाइट हाउस के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जैक सुलिवन ने प्रेस कॉन्फ़्रेंस के दौरान एक अहम जानकारियों साझा की है।

साथ ही उन्होंने ये बताया है कि बाइडन ने ये माना है कि युद्ध की शुरुआत के बाद से ही इसराइल को कई सैन्य सफलताएं मिली पर उन्होंने ग़ज़ा में आम लोगों की बढ़ती मौतों को लेकर भी काफी चिंता जताई है।

सुलिवन ने ये बताया है कि राष्ट्रपति बाइडन ने इसराइल के हमास के ख़िलाफ़ अभियान चलाने की प्रतिबद्धता को दोहराया है और साथ ही उन्होंने इसराइल को चेताया भी है।

International News: टिकटोक पर लगा 11 मिलियन डॉलर का जुर्माना

राष्ट्रपति बाइडन ने इसराइली प्रधानमंत्री को ये सलाह दी है कि रफ़ाह पर हमला करना इसराइल की सेना की ही ‘ग़लती’ होगी।

दक्षिणी ग़ज़ा में मौजूद रफ़ाह शहर में इस समय युद्ध के दौरान भागकर आए लाखों शरणार्थियों ने पनाह भी ले रखी है। वहीं ये दक्षिणी ग़ज़ा का सबसे अधिक आबादी वाला आख़िरी केंद्र बचा हुआ है, जहाँ पर कोई भी इसराइली सेना भी नहीं है।

बाइडन ने क्या बोला

इसराइली प्रधानमंत्री बिन्यामिन नेतन्याहू को चेताते हुए बाइडन ने ये कहा है कि रफ़ाह पर हमला ‘एक ग़लती साबित होगी.’

अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने पत्रकारों से ये बताया, “इस हमले से अधिक निर्दोष लोगों की मौतें होंगी। वहीं मानवीय संकट पहले से और गंभीर हो जाएगा। साथ ही ग़ज़ा में अराजकता गहरी हो जाएगी और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इसराइल अलग-थलग भी हो जाएगा।”

ग़ज़ा में हमास के नेतृत्व वाले स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, सात अक्तूबर के बाद शुरू हुए युद्ध में अब तक 31 हज़ार से अधिक फ़लस्तीनी नागरिकों की मौत भी हुईं है।

इन मौतों की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर निंदा करी जा रही है और इसराइल के कई सहयोगियों को अलग-थलग भी कर दिया गया है।

सुलिवन ने ये बताया है कि राष्ट्रपति बाइडन ने बातचीत के दौरान नेतन्याहू को ग़ज़ा में ‘साफ़ और रणनीतिक’ तौर पर ‘खेल ख़त्म करने को बोला है।’

उन्होंने ये भी कहा, “राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री को दोबारा कहा कि हमास को हराने का हम लक्ष्य साझा करते हैं लेकिन हम मानते हैं कि इसके लिए आपको एक सुसंगत और टिकाऊ रणनीति की आवश्यकता होगी।”

SC ने बाबा रामदेव को किया तलब, जानिए पूरा मामला 

इसके साथ ही ये जानकारी भी सामने आई है कि बाइडन ने इसराइली नेता को एक इसराइली टीम वॉशिंगटन बुलाने पर अपनी सहमति दी है।

Aaj Ka Love Rashifal

सुलिवन ने बताया है कि ये उम्मीद बनी हुई है कि इसराइल अपना हमला तब तक रोके रखेगा जब तक कि बैठक नहीं होती।

What's your reaction?

Related Posts

1 of 665