Viral 18

अब पासपोर्ट के लिए आपको ये ऑनलाइन प्रॉसेस करना होगा पूरा

 

डेस्क । 5 अगस्त यानी आज से ही इंटरनेशनल ट्रैवल के लिए पासपोर्ट एप्लिकेशन प्रोसेस में बड़ा बदलाव किया गया है और अब नए पासपोर्ट के लिए अप्लाई करने के लिए ट्रैवलर्स को जरूरी डॉक्यूमेंट DigiLocker का इस्तेमाल कर अपलोड भी करने होंगे।

 एक सरकारी प्लेटफॉर्म है जो एक बार डॉक्यूमेंट अपलोड होने के बाद एप्लीकेंट्स अपने पासपोर्ट एप्लिकेशन ऑफिशियल वेबसाइट www.passportindia.gov.in के जरिए ऑनलाइन सबमिट भी कर पाएंगे।

मिनिस्ट्री ऑफ एक्सटर्नल अफेयर्स (MEA) ने यह बोला है कि अगर एप्लीकेंट्स ने DigiLocker के जरिए अपने डॉक्यूमेंट अपलोड किए हैं तो उन्हें एप्लिकेशन प्रोसेस के दौरान ओरिजनल फिजिकल कॉपी लाने की जरूरत नहीं होगी और इस कदम से पासपोर्ट एप्लिकेशन प्रोसेस के टाइम और एफिशिएंसी में बेहतरी की भी उम्मीद है।

जानिए क्या है DigiLocker?

DigiLocker मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी द्वारा उपलब्ध कराई गई डिजिटल वॉलेट सर्विस है साथ ही इसमें यूजर्स सरकारी डॉक्यूमेंट जैसे ड्राइविंग लाइसेंस, व्हीकल रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट और मार्क शीट को सुरक्षित तरीके से स्टोर और एक्सेस किया जा सकता है। मंत्रालय ने अब ऑनलाइन आवेदन जमा करने के लिए डिजीलॉकर के जरिए आधार डॉक्यूमेंट्स के इस्तेमाल की अनुमति भी दी है।

जानिए, DigiLocker का इस्तेमाल कैसे करें?

डिजिलॉकर अकाउंट ओपन करने के लिए यूजर्स को मोबाइल नंबर देना होगा, जो पहले से ही आधार से लिंक्ड भी हो। डिजिलॉकर अकाउंट को रजिस्टर करते वक्त यूजर्स को लिंक्ड मोबाइल नंबर पर एक OTP आएगा । इसका इस्तेमाल यूजर्स को रजिस्ट्रेशन प्रोसेस पूरा करने के लिए भी करना होगा। DigiLocker अकाउंट नाम अपडेट या मोबाइल नंबर अपडेट जैसा कोई बदलाव करने के लिए यूजर्स को सबसे पहले उस डेटा को आधार में अपडेट भी करना होगा।

Related Posts

1 of 190