राज्य

18 जून को संसद का पहला सत्र, जानिए शुरुआती दिनों का शेड्यूल 

डेस्क। करीब दस साल के इंतजार के बाद इस बार संसद में विपक्ष का प्रतिनिधित्व बढ़ता दिखाई दिया है। मोदी के तीसरे कार्यकाल में पहली बार विपक्ष को नेता प्रतिपक्ष का पद मिलने जा रहा है। हमेशा की तरह ही स्पीकर पद इस बार भी भाजपा अपने पास ही रखेगी।

18वीं लोकसभा का पहला सत्र 18 जून से शुरू होने वाला है। इसकी शुरुआत नवनिर्वाचित सांसदों के शपथ से होगी। साथ ही शुरुआती दो दिन चुने गए 543 सांसदों को प्रोटेम स्पीकर शपथ भी दिलाएंगे। जबकि 20 जून को लोकसभा अध्यक्ष का चुनाव होना है।

अगले दिन 21 जून को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू संसद के दोनों सदनों को संयुक्त रूप से संबोधित करेंगी। अभी पूरे कार्यक्रम की आधिकारिक घोषणा नहीं करी गई है।

करीब दस साल के इंतजार के बाद इस बार संसद में विपक्ष का प्रतिनिधित्व बढ़ा नजर आएगा और मोदी के तीसरे कार्यकाल में पहली बार विपक्ष को नेता प्रतिपक्ष का पद दिया जाएगा। स्पीकर पद इस बार भी भाजपा अपने पास ही रखेगी। हालांकि दिलचस्पी यह जानने में है कि भाजपा पूर्व स्पीकर ओम बिरला पर दोबारा भरोसा जताएगी या कोई नया चेहरा पेश किया जाना है।

गौरतलब है कि मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में सुमित्रा महाजन तो दूसरे कार्यकाल में ओम बिरला को मौका मिला था। वहीं महाजन 2019 का चुनाव नहीं लड़ी थीं, जबकि बिरला राजस्थान की कोटा सीट से चुनाव जीतने में सफल हुए हैं।  

डिप्टी स्पीकर का पद बहाल होगा या नहीं, इस पर सस्पेंस अभी कायम है। कयास यह लगाए जा रहे हैं कि भाजपा इस बार यह पद अपने किसी सहयोगी दल को दे सकती है। पहले कार्यकाल में पार्टी ने यह पद अपनी सहयोगी अन्नाद्रमुक को सौंपा था।

What's your reaction?

Related Posts

1 of 725