राज्य

सिक्किम में बाढ़ से इतने लोगों की मौत, 23 जवान अभी तक लापता 

 

डेस्क। उत्तरी सिक्किम में ल्होनक झील पर बादल फटने के कारण तीस्ता नदी में अचानक बाढ़ आ गई। जिसमें 14 लोगों की मौत की पुष्टि की गई गई। बाढ़ की वजह से 102 लापता और 26 लोग घायल हैं। घायलों में 22 सैन्यकर्मी भी शामिल हैं। अधिकारियों ने यह कहा है कि मरने वाले सभी लोगों की पहचान आम नागरिकों के रूप में की गई है, जिनमें से तीन लोग उत्तरी बंगाल में बह भी गए थे। उन्होंने यह भी बताया कि सुबह लापता हो गए सेना के 23 जवानों में से एक को बाद में बचा भी लिया गया था।

अधिकारियों ने यह भी बताया कि सिक्किम में रात करीब डेढ़ बजे शुरू हुई बाढ़ की स्थिति चुंगथांग बांध से पानी छोड़े जाने के कारण और भी बदतर हो गई है। सिक्किम के मुख्य सचिव वी बी पाठक ने ये भी बोला है कि देश के विभिन्न हिस्सों से आए 3,000 से अधिक पर्यटकों के राज्य के विभिन्न हिस्सों में फंसे होने की सूचना दी है।

MaxView Vertical Video Streaming: Disney hotstar का कमाल का फीचर पेश

पाठक ने ये कहा है कि चुंगथांग में तीस्ता चरण तीन बांध में कार्यरत कई कर्मचारी फंसे हुए हैं। मुख्य सचिव ने ये भी कहा कि बाढ़ के कारण सड़क बुनियादी ढांचे का व्यापक नुकसान हुआ है क्योंकि 14 पुल ढह चुके हैं, जिनमें से नौ सीमा सड़क संगठन (BRO) के अधीन हैं और पांच राज्य सरकार के अंडर आती हैं।

Sikkim

करीब 166 लोगों को बचाया भी गया

एक अन्य अधिकारी ने बोला है कि अब तक करीब 166 लोगों को बचाया गया, जिनमें सेना का एक जवान भी शामिल है। रक्षा प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल महेंद्र रावत ने बोला है कि बचाए गए सैनिक की स्वास्थ्य स्थिति अब पहले से स्थिर है। अधिकारियों ने ये भी बताया कि बचाव कर्मियों ने सिंगताम के गोलिटार में तीस्ता नदी के बाढ़ क्षेत्र से कई शव निकाले हैं।

Reliance Jio ने अपने यूजर्स को दी अच्छी खबर,OTT के ये प्लांस पेश 

What's your reaction?

Related Posts

1 of 738