राज्य

Lok Sabha Election: प्रधानमंत्री ट्रूडो ने चुनावों पर दी बड़ी प्रतिक्रिया 

डेस्क। Lok Sabha Election: लोकसभा चुनाव के नतीजे आ गए हैं जिसमें बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए गठबंधन को बहुमत भी मिला है। वहीं बीजेपी अपने सहयोगियों के साथ मिलकर सरकार बनाने के लिए तैयार भी है। पीएम मोदी की लगातार तीसरी जीत पर कनाडा के प्रधानमंत्री ट्रूडो ने अपनी प्रतिक्रिया भी दी है।

कनाडा के प्रधानमंत्री के आधिकारिक एक्स हैंडल से यह ट्वीट किया था, ‘भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चुनाव में जीत पर बधाई भी है। कनाडा मानवाधिकारों, विविधता और कानून के शासन पर आधारित संबंधों को आगे बढ़ाने के लिए उनकी सरकार के साथ काम करने के लिए भी पूरी तरह से तैयार है।’

अखिलेश अब केंद्र में होगें एक्टिव, इस नेता को सौंपेंगे राज्य

भारत और कनाडा के बीच खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर हत्याकांड मामले में पिछले साल से ही कई विवाद चल रहे है। कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने पिछले साल संसद में खड़े होकर निज्जर की हत्या में भारतीय एजेंसियों की संलिप्तता के आरोप भी लगाए थे। उन्होंने यह दावा किया था कि भारत सरकार के एजेंट्स ने ही 18 जून 2023 को कनाडा के ब्रिटिश कोलंबिया के सर्रे में गुरु नानक सिख गुरुद्वारे के बाहर निज्जर की हत्या भी कर दी गई थी।

कनाडा के प्रधानमंत्री ट्रूडो ने यह आरोप लगाते हुए भारत से जांच में सहयोग की मांग भी की थी। भारत निज्जर की हत्या में संलिप्तता से इनकार करता रहा है और निज्जर हत्याकांड मामले में कनाडा ने कई गिरफ्तारियां भी की हैं।

Lok Sabha Chunav 2024 : नायडू और नीतीश रख सकते हैं ये बड़ी मांग

पिछले महीने ही चौथी गिरफ्तारी हुई थी जिसे लेकर विदेश मंत्री एस जयशंकर ने यह कहा था कि भारत को इस मामले में कभी कुछ ऐसा नहीं मिला जो जांच एजेंसियों के काम का हो और जयशंकर ने बोला था, ‘हमें कभी कुछ ऐसा नहीं मिला जो विशिष्ट हो और हमारी एजेंसियों की जांच के लिए काम भी हो रहा है। मुझे इस बात की जानकारी नहीं है कि पिछले कुछ दिनों में इस संबंध में नया कुछ हुआ रहा हो।’ जयशंकर ने बोला है कि अगर कनाडा के पास किसी भी हिंसा से संबंधित कोई सबूत है जो भारत के संबंध में है तो हम जांच के लिए तैयार भी हैं।

कनाडा में भारत के विरोध में खालिस्तान समर्थक विरोध-प्रदर्शन भी होते रहे हैं और जिस पर कनाडा की सरकार अपनी चुप्पी साधे हुए है।

अमृतपाल की हुई जीत

Lok sabha election result: इस बार जनता ने दिए इतने मुस्लिम सांसद

लोकसभा चुनाव में पंजाब के खडूर साहिब से खालिस्तान समर्थक अमृतपाल सिंह की भी जीत की खरब मिली है। अमृतपाल फिलहाल असम की डिब्रूगढ़ जेल में बंद है और अमृतपाल सिंह पर राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (NSA) के तहत देश की सुरक्षा में बाधा डालने जैसे कई बड़े आरोप भी लगे हैं। अमृतपाल ‘वारिस पंजाब दे’ नामक संगठन का मुखिया है और खुलकर खालिस्तान का समर्थन भी करता है।

What's your reaction?

Related Posts

1 of 736