राज्य

18 Lok Sabha: भाजपा पर दोहरा वार करेगी अखिलेश डिंपल की जोड़ी 

डेस्क। 18 Lok Sabha: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव अब केंद्र की राजनीति में दिखाई देने वाले हैं। कन्नौज से लोकसभा का चुनाव जीतने के बाद अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश विधानसभा से इस्तीफा देंगे और अगर ऐसा हुआ तो पत्नी डिंपल यादव के साथ अखिलेश संसद में नरेंद्र मोदी सरकार पर डबल अटैक करते सामने आएंगे।

डिंपल यादव इस बार मैनपुरी से चुनाव जीती हैं और 18वीं लोकसभा में पति-पत्नी की देशभर में ये एकमात्र जोड़ी बनी है।

Lok Sabha Elections: भाजपा जल्द करेगी अध्यक्ष का चुनाव 

इससे पहले 17वीं लोकसभा में भी अखिलेश यादव और डिंपल यादव चुनाव जीतकर संसद पहुंचे थे पर दोनों ही अलग-अलग समय में।

पिछली बार अखिलेश आजमगढ़ से चुनाव जीते लेकिन डिंपल कन्नौज से नहीं जीत सकीं थीं। सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद उपचुनाव में डिंपल मैनपुरी से जीतकर संसद पहुंची थी, लेकिन तब तक अखिलेश करहल विधानसभा सीट से निर्वाचित होकर यूपी विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष बन गए थे इसकी वजह से संसद सदस्यता से उन्होंने इस्तीफा भी दे दिया था।

जानकारी के लिए बता दें इससे पहले बिहार से पप्पू यादव और उनकी पत्नी रंजीत रंजन भी साथ में लोकसभा पहुंच चुके हैं। दोनों 2004 और 2014 में दो बार एक साथ चुनाव लड़कर लोकसभा पहुंचे थे पर तब दोनों अलग-अलग पार्टियों में थे। इस बार भी पप्पू यादव निर्दलीय चुनाव जीतकर संसद पहुंचे हैं तो वहीं उनकी पत्नी रंजीत रंजन कांग्रेस से राज्यसभा की सांसद हैं।

PM New Cabinet: मंत्रीपद संभालते ही चीन और पाकिस्तान पर क्या बोले एस जयशंकर 

पप्पू-रंजीत की जोड़ी इस बार भी संसद में होंगी पर वो अलग-अलग सदन का हिस्सा होंगे।

वहीं अभिनेता धर्मेंद्र और अभिनेत्री हेमा मालिनी भी एक वक्त में एक साथ संसद में रहे हैं पर ये दोनों भी अलग-अलग सदन में थे। धर्मेंद्र जहां बीकानेर से चुनाव जीतकर 2004 से 2009 तक लोकसभा में थे, तो वहीं 2003 से 2009 तक हेमा मालिनी राज्यसभा की सदस्य रही थीं।

What's your reaction?

Related Posts

1 of 735