धर्म

Basant Panchami 2023: बसंत पंचमी पर बरतें यह सावधानियां नहीं तो जीवन बीतेगा दुखों के साथ

Basant Panchami 2023: बसंत पंचमी या सरस्वती पूजा का त्यौहार 26 जनवरी को मनाया जा रहा है। प्रत्येक व्यक्ति माता सरस्वती का आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए पूजा की विधि पूर्वक तैयारी में लग गया है। 

क्योंकि धार्मिक मान्यता है कि यदि आप सरस्वती माता की पूजा विधि विधान से करते हैं तो माता हमें सुख, समृद्वि, ज्ञान, बल और बुद्धि प्रदान करती हैं। 

लेकिन अगर आप सरस्वती पूजा के दिन कुछ विशेष सावधानियां नहीं बरतते हैं। तो आपको कष्टों से जूझना पड़ सकता है और आपके घर से सुख समृद्धि चली जायेगी और घर मे कलह और नकारात्मक ऊर्जा का वास होगा।

धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक यदि आप सरस्वती पूजा के दिन घर मे झगड़ा करते हैं, फसल और पेड़ पौधे काटते हैं। जानवरों को कष्ट देते हैं।शराब पीकर घर मे आते हैं। बड़ो का अनादर करते हैं और अपने बुजुर्गों के साथ दुर्व्यवहार करते हैं। तो आपके घर मे माता सरस्वती की कृपा कभी नहीं होती और आपका पूरा जीवन दुखों में व्यतीत होता है।

जानें कब मनाई जाएगी बसंत पंचमी-

बसंत पंचमी का शुभ मुहूर्त 25 जनवरी को दोपहर में 12 बजकर 34 मिनट पर हो रहा है और इसका समापन 26 जनवरी को सुबह 10 बजकर 28 पर होगा। लेकिन बसंत पंचमी का पर्व 26 जनवरी को मनाया जाएगा। इस दिन पूजा का मुहूर्त सुबह 07 बजकर 07 मिनट से लेकर सुबह 10 बजकर 28 मिनट तक रहेगा।

Show More

Related Articles

Back to top button