Monday, December 5, 2022

कांग्रेस का इतिहास जगजाहिर, यह दलित विरोधी है खराब दिनों में इन्हें याद आते दलित

देश– कल कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव का नतीजा सामने आया और मल्लिकार्जुन खड़गे कांग्रेस के नए अध्यक्ष नियुक्त हुए। नाम की घोषणा हुई तो आलोचकों ने भी इनको लेकर अपना मत व्यक्त करना आरंभ कर दिया। किसी ने मल्लिकार्जुन को गांधी परिवार की कठपुतली कहा, तो कोई इनका अध्यक्ष बनना दिखावा बता रहा है।

वही अब बसपा सुप्रीमो मायावती ने मल्लिकार्जुन खड़गे को लेकर कांग्रेस पर कटाक्ष किया है। उन्होंने कहा, कांग्रेस का इतिहास जगजाहिर है। सभी जानते हैं कांग्रेस उपेक्षित और दलितों की हितैषी नही रही है। यह दलित को तब याद करते हैं जब इनके दिन खराब होते हैं।

मायावती ने ट्वीट करते हुए कहा, कांग्रेस का इतिहास गवाह है कि इन्होंने दलितों व उपेक्षितों के मसीहा परमपूज्य बाबा साहेब डा भीमराव अम्बेडकर व इनके समाज की हमेशा उपेक्षा/तिरस्कार किया। इस पार्टी को अपने अच्छे दिनों में दलितों की सुरक्षा व सम्मान की याद नहीं आती बल्कि बुरे दिनों में इनको बलि का बकरा बनाते हैं।

वही कांग्रेस पार्टी को अपने अच्छे दिनों के लम्बे समय में अधिकांशतः गैर-दलितों को एवं वर्तमान की तरह सत्ता से बाहर बुरे दिनों में दलितों को आगे रखने की याद आती है। क्या यह छलावा व छद्म राजनीति नहीं? लोग पूछते हैं कि क्या यही है कांग्रेस का दलितों के प्रति वास्तविक प्रेम?

देखे यूजर्स की प्रतिक्रिया-

एक यूजर कहता है कि एक दलित कांग्रेस का अध्यक्ष बने तो बहनजी को इतनी दिक्कत क्यों हो रही है? अभी कोई ब्रहमण बनता तो उनका समर्थन करते. दलितों से इतनी नफरत और ब्राह्मणो से प्रेम क्यों है बसपा को? दलित विरोधी बसपा। “हाथी नही गणेश है ब्रह्मा विष्णू महेश है।

वही एक अन्य यूजर कहता है कि बहन जी हम भी एक दलित परिवार से आते हैं उत्तर प्रदेश में अब आपकी राजनीती खत्म है उत्तर प्रदेश के साथ साथ पुरे भारत का दलित अब सिर्फ कांग्रेस को अपना वोट देने वाली है।

एक यूजर कहता है कि कांग्रेस हमेंशा जातिवादी थी है और आगे रहेंगी कांग्रेस बस दलितो का वोट बँटवारा करके बसपा को रोकना चाहती हैं और कुछ नही कांग्रेस हमेंशा अपनी नीती दलितो के घृणा रखने के लिए करती है अब पहले जगजीवन राम को बली का बकरा बनया अब खरगे को बना रही है कांग्रेस हर जगह दलितो को बसपा के खिलाफ कर रही है।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
3,593FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles