देश - विदेश

Indian Army Update: 50 फीसदी से ज्यादा अग्निवीर जवान किए जाएंगे स्थाई 

 

डेस्क। Agniveer Update: सेना में नियुक्ति के लिए साल 2022 में लागू की गई अग्निवीर योजना में सरकार कई बड़े बदलाव करने की तैयारी कर रही है। खबर यह है कि जल्द ही सेना में स्थाई होने वाले जवानों की संख्या में इजाफा भी हो सकता है।

फिलहाल, इसे लेकर आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं कहा गया है। मौजूदा प्रावधानों के तहत अग्निवीर योजना के तहत सेना का हिस्सा बनने वाले जवानों में से 25 फीसदी को प्रशिक्षण के बाद स्थाई कर दिया जाता है।

रक्षा मंत्रालय अग्निवीरों के स्थाई किए जाने के प्रतिशत को बढ़ाकर पचास फीसदी करने पर गंभीरता से विचार करने के लगा है। उच्च पदस्थ सूत्रों ने यह जानकारी भी दी है। पिछले साल लागू की गई अग्निवीर योजना में जवानों को चार साल के लिए नियुक्त किया जाता है, पर बाद में 75 फीसदी को एक तय राशि के साथ सेवा से अलग भी कर दिया जाएगा। 

थल, जल और नभ सेना तीनों में यही प्रक्रिया अपनाई गई है। तीनों सेनाओं में अग्निवीरों के पहले बैच आ चुके हैं वहीं सूत्रों के अनुसार योजना में सुधारों को लेकर अनेक सुझाव सेनाओं की ओर से मिले हैं। खासकर नौसेना एवं वायुसेना का कहना है कि चार साल में 75 फीसदी प्रशिक्षित अग्निवीरों को घर भेजने से उसे काफी नुकसान हो सकता है क्योंकि जैसे ही वे तकनीकी कार्य में दक्ष होंगे, उनका सेवाकाल पूरा हो जाएंगे। 

बता दें कि नौसेना एवं वायुसेना में ज्यादातर सैनिक तकनीक कार्य करते हैं वहीं थल सेना में भी काफी शाखाओं में जवानों को तकनीकी कार्य करना पड़ता है। सरकारी सूत्रों ने यह कहा कि सुझाव पर विचार किया जा रहा है। अभी पहले बैच को भी एक ही साल हुआ है इसलिए सरकार के पास इस मामले में फैसला लेने के लिए अभी काफी वक्त है।

What's your reaction?

Related Posts

1 of 665