Monday, December 5, 2022

पति के अंतिम संस्कार में जाने की इस एक्ट्रेस को नहीं मिली थी इजाजत

डेस्क। Zeenat Aman On Her Husband Demise: जीनत अमान ने बॉलीवुड की लीडिंग लेडी के रूप में सफलता की कहानी लिखी थी साथ ही फिल्म उद्योग और उस समय के भारत में दूरदर्शी माने जाने वाले अपने रूप और व्यवहार के लिए अक्सर चर्चा में रहने वाली, वह हरे रामा हरे कृष्णा, सत्यम शिवम सुंदरम और द ग्रेट गैम्बलर जैसी फिल्मों में दिखाई भी दीं थीं।
वहीं हिंदी सिनेमा की ‘ओरिजिनल ग्लैम दिवा’ कहलाने वाली, वह अपनी पर्सनल लाइफ के साथ-साथ प्रोफेशनल लाइफ को लेकर भी चर्चा में रहीं थीं।

अपनी ही शादी को लेकर रही विवादों में

जीनत अमान की मजहर खान के साथ शादी की चर्चा अक्सर होती ही रहती थी। उनकी तुलना में 1985 में उनकी शादी ने लोगों को आश्चर्यचकित भी कर दिया। पर दोनों जल्द ही अलग हो गए थे और उनके दो बेटे हैं। द रेंडीज़वस विद सोमी गरेवाल में ज़ीनत ने अपनी शादी और शादी के बंधन में बंधने के बारे में काफी बात की थी।

इस कड़ी में उन्होंने यह भी कहा था “उस समय, मैं किसी भी चीज से ज्यादा मातृत्व के लिए तैयार थी और मुझे लगा कि मेरी जैविक घड़ी टिक-टिक कर रही है और मैं वास्तव में बच्चे भी पैदा करना चाहती थी। साथ ही यही मुख्य कारण था कि मैंने शादी क्यों करी क्योंकि मैं वास्तव में मानता हूं कि शादी करने का एकमात्र कारण परिवार का होना है। और मैं उस समय इसके लिए तैयार महसूस भी कर रहा था। और इसलिए मैंने ऐसा किया भी।”

उन्होंने 1998 में मजहर की मौत और उससे पहले उनके अलग होने के कारणों के बारे में भी खुलकर बात करी। साथ ही उसने आरोप लगाया कि वह नुस्खे दवाओं के आदी हो गए थे और उनका निधन गुर्दे की बीमारी के कारण हुआ था।
इसपर जीनत ने सिमी से यह भी कहा कि उसे अपने पति के अंतिम संस्कार में शामिल होने की अनुमति नहीं दी गई थी वहीं उन्होंने कहा, ”सिमी मैं उनके मरने के लिए तैयार नहीं थी। साथ ही मैंने उनके जीने के लिए बहुत संघर्ष भी किया है। और मुझे वास्तव में विश्वास था कि उन्हें किडनी मिल जाएगी आगे वो बोलीं मुझे विश्वास था कि वह जीवित भी रहेगा।”

आगे उन्होंने कहा, ”सबसे बुरा झटका यह था कि उन्होंने मुझे अंतिम सम्मान देने की अनुमति नहीं दी वहीं उनकी मां और उसकी बहन मुझे उसे छोड़ने के लिए दंडित करने की कोशिश भी कर रहे थे। वह मेरे बच्चों के पिता थे और मैंने पूछा कि क्या मैं कर सकती हूं तो… मुझसे कहा गया, नहीं, तुम नहीं आ सकते और आप अंतिम दर्शन करने भी नहीं आ सकते, इतना गुस्सा और कड़वाहट और नफरत थी उनमें।’

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
3,593FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles