राज्य

गुजरात में वसूली जा रही EMI पर रिश्वत

डेस्क। अगर कोई आपसे ये कहे कि कुछ भ्रष्ट अधिकारी रिश्वत लेने के लिए लोगों को ईएमआई की सुविधा दे रहे हैं तो यकीनन हर कोई यह सुनकर हैरान रह जाएगा। गुजरात से ऐसे ही कई मामले सामने भी आ चुके हैं।

जब लोग घर, गाड़ी या फिर दूसरे सामान को खरीदने की चाह रखते हैं और उनका बजट ना हों तो वो उस सामान को ईएमआई यानी किश्तों में खरीदने की सुविधा का लाभ उठाते हैं। यही वजह है कि देशभर में बड़ी कंपनियों के ज्यादातर प्रोडक्ट्स ईएमआई फेसिलिटी पर उपलब्ध भी रहते हैं। 

लोगों पर न पड़े बोझ, इसलिए किश्तों में ली रिश्वत

इन दिनों ऐसा ही एक हैरान करने वाला मामला गुजरात से भी सामने आया है। गुजरात के कुछ भ्रष्ट अधिकारियों ने ईएमआई में रिश्वत लेने का तरीका इसलिए चुना ताकि लोगों पर एक साथ ज्यादा बोझ ना पड़ सके, जिनसे वो रिश्वत ले रहे हैं। 

UP Weather Update 2024: गर्मी से अभी नहीं मिलेगी यूपी वालों को राहत 

हैरान करने वाली बात ये है कि लोग भ्रष्ट्र अधिकारियों को ईएमआई यानी किश्तों में रिश्वत दे भी रहे हैं वहीं गुजरात में ईएमआई के रूप में रिश्वत लेने के ऐसे एक नही बल्कि कई मामले सामने आए हैं। दरअसल इस साल भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) द्वारा ऐसे दस मामले दर्ज भी किये गए हैं।

पाकिस्तान करेगा चीनियों की सुरक्षा 

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक 4 अप्रैल को सूरत में एक ग्रामीण के खेत को समतल करने के लिए 85,000 रुपये की रिश्वत मांगी गई पर ग्रामीण की आर्थिक स्थिति को देखते हुए, उसके सामने रिश्वत की रकम को ईएमआई के रूप में चुकाने का विकल्प पेश किया गया। जिसमें पहले 35,000 रुपये की रकम और बाकी बची हुई रकम की तीन बराबर किश्तों में भुगतान करने की बात बोली गई।

What's your reaction?

Related Posts

1 of 725