Sunday, November 27, 2022

मुगलों ने ट्रांसजेंडर को दिया था सम्मानजनक काम , लोग जानबूझकर अपने बच्चो को बनाते थे नपुंसक

इतिहास– भारत के इतिहास में मुगलों का इतिहास काफी महत्वपूर्ण है। जब भी कोई मुगलों के इतिहास को याद करता है तो उनके अत्याचारों की कहनी सबसे पहले हमारे सामने आ जाती है। 

मुगलों ने भारत के लोगो के साथ अत्याचार की सभी हदें पार कर दी थी। महिलओं को उपभोग की वस्तु समझना मुगलों का मानो शौक था। मुगल ज्यादातर लोगों को अपने यहां काम पर रखते थे। वही जब हम मुगलों के इतिहास को पढ़े तो मुगलों के यहां ट्रांसजेंडर काम करते थे।

मुगलों के इतिहास पर नजर डाले तो राजा महाराज अपनी रानियों के लिए ट्रांसजेंडर को काम देते थे। ट्रांसजेंडर कोई आज का नया शब्द नही है। इसका जिक्र वेद, कामसूत्र, मनु स्मृति और महाभारत सहित प्राचीन भारतीय शास्त्रों में पाया जा सकता है। 

कहते हैं यह मुगलों ने ट्रांसजेंडर को सबसे अमुख काम दिया था। वह उन्हें अपने ताज और अपनी पसंदीदा चीजो की देखरेख हेतु रखते थे। उस दौर में यह पढ़े लिखे बुद्धिमान होते थे। यह राजकुमारियों को पढ़ाते थे और हरम की रखवाली भी करते थे।

मुगल सम्राट ट्रांसजेंडर को काफी सम्मान की नजर से देखते थे। वही कई लोग अपने बच्चों को उस समय नपुंसक इसलिए बना देते थे। ताकि उनके बच्चों को मुगल दरबार मे नौकरी मिल सके। यह मुगल बादशाहों के हितैषी होते थे और उनके लिए अपनी जान छिडकते थे।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
3,585FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles