Bol Bindas || गढ्ढा में है सड़क या सड़क में है गढ्ढा

0
137

दर्जनभर सड़कों का होगा जीर्णोद्धार…..

विवेक चौबे, गढ़वा

 

गढ़वा : जिले के कांडी प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत गरदाहा उच्च विद्यालय के प्रांगण में जनता की मांग पर विश्रामपुर विधानसभा क्षेत्र के प्रसिद्ध समाजसेवी सह राजद नेता नरेश सिंह पहुंचे। गाड़ी से उतरते ही प्रतीक्षा में खड़े लोगों ने माल्यार्पण कर भव्य स्वागत किया। विकास जैसी बातों पर चर्चा को लेकर कार्यक्रम की शुरुवात की गई। जहां मंच का संचालन पी आर सिन्हा कर रहे थे। वहीं उपस्थित सैकड़ों लोगों द्वारा समाजसेवी नरेश प्रसाद सिंह से मांग की गई कि गरदाहा उच्च विद्यालय से लेकर टेढ़ी महुआ सोहगाड़ा तक गवर्नर रोड का जीर्णोद्धार किया जाए, जिससे वाहनों व लोगों के आवागमन में कोई परेशानी न हो। विदित हो कि उक्त सड़क की ऐसी हालात है कि विकास के नाम पर आंसू बहा रही है। चुकी इस सड़क पर एक दो गांव नहीं बल्कि 40 गांवों का हमेशा आना-जाना है। पता भी नहीं चलता कि सड़क में गढ्ढा है या गढ्ढा में सड़क। उपस्थित सैकड़ों लोगों ने एक साथ खड़ा होकर हाथ ऊपर करते हुए उक्त गवर्नर रोड का जीर्णोद्धार कराने की मांग की। लोगों ने कहा कि इस सड़क से वाहन का गुजरना तो असंभव की सीमा तक कठिन है ही इस पर पैदल चलना भी मुश्किल है। सड़क के बेहद बड़े बड़े गड्ढों में भरे हुए पानी व कीचड़ में गिरकर सयाना भले बच जाए बच्चा गिरे तो उसकी मौत हो जाएगी। कहा कि इस खतरा से केवल आप ही बचा सकते हैं। ग्रामीणों ने अपनी व्यथा बयान करते हुए कहा कि जीते हुए जन प्रतिनिधियों को हमलोगों के जीने मरने से कोई मतलब नहीं है। इसके साथ ही ग्रामीणों ने कांडी प्रखंड क्षेत्र की 12 सड़कों के जीर्णोद्धार की गुहार लगाई, जिनमें गरदाहा हाईस्कूल से टेढ़ी महुआ सोहगाड़ा तक गवर्नर रोड, मोखापी मोड़ से कांडी तक मेन रोड, मेन रोड से सड़की गांव तक, सूर्यदयाल मोड़ से प्रजापति टोला तक, डेमा मोड़ से सोनपुरवा गांव होते घुरूआ स्कूल तक, नवडीहवा टोला से कर्बलाह तक, गवर्नर रोड से स्कूल होते देवडीह बस्ती तक, आश्रम से बनहा होते शिवपुर काली स्थान तक, गवर्नर रोड से अधौरा तक, हेल्थसेंटर अधौरा से गुलरिया बांध होते सोनपुरवा पीपल तक, चिरइयां बांध से देवी मंदिर होते अधौरा बस्ती तक और कुटी पर चौराहा से रामबांध होते घुरूआ गांव तक 12 सड़कों के जीर्णोद्धार की राजद नेता से मांग की। बैठक में शामिल लोगों को संबोधित करते हुए राजद नेता नरेश सिंह ने कहा कि आम सभा के द्वारा की गई मांग ही उनके लिए जनादेश होता है। उन्होंने निजी खर्च से सभी सड़कों के जीर्णोद्धार कराए जाने की बात कही। उनकी इस घोषणा का लोगों ने जोरदार तालियों से स्वागत किया। राजद नेता ने कहा कि ये काम उनके जन कल्याण मिशन में शामिल है। जिसके तहत पिछले छह वर्षों में हजारों गरीबों की बेटी की शादी, गरीबों के श्राद्ध व आपदा पीड़ितों को आर्थिक सहयोग, गरीबों को कंबल, समस्याग्रस्त गांव व शहरों में पेयजलापूर्ति, दर्जनों चेकडैम, मंदिर, मदरसा, खेल मैदान व कब्रिस्तान का निर्माण कराया गया है। कहा कि वे गरीब गुरबों की मदद की राजनीति करते हैं। इसीलिए वे राजद में शामिल हुए हैं। कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने सामाजिक न्याय की लड़ाई को लेकर ही राजद का गठन किया था। पूरे जीवन वे गरीब, शोषित व वंचितों की लड़ाई लड़ते रहे हैं। उसी लड़ाई को बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री एवं वर्तमान में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव आगे बढ़ा रहे हैं। पार्टी की नीतियों एवं सिद्धांतों का अनुपालन करते हुए कतार में खड़े अंतिम आदमी को न्याय दिला कर उसे कतार का प्रथम आदमी बनाना अपना भी लक्ष्य है। इस मौके पर लोगों को संबोधित करते हुए राजद के प्रखंड अध्यक्ष जगदीश यादव ने कहा कि अभी तक वे लोग पार्टी को जिंदा रखे हुए थे। स्थानीय स्तर पर उनका कोई मजबूत नेता नहीं था। अब नरेश सिंह के आ जाने से किसी तरह की कोई चिंता नहीं रही। जहां भी ग्रामीणों को कोई दिक्कत हो उन्हें जानकारी दें। उसका समाधान किया जाएगा। वहीं सलीम राय ने कहा कि विश्रामपुर विधानसभा क्षेत्र में पहली बार गरीबों को सही नेतृत्व मिला है। इस मौके पर मोती पाल, विनोद चंद्रवंशी, लाल मोहम्मद, रामजन्म पांडेय, तसलीम अंसारी, लाला पांडेय, धनंजय सिंह, गोपी सिंह, शशि कुमार पांडेय, पूर्व मुखिया जय किशुन राम, सुदर्शन राम, महादेव राम सहित सैकड़ों की संख्या में लोग उपस्थित थे।

Please follow and like us: