Breaking NewsLatest Newsदेश - विदेश

नॉर्ड स्ट्रीम पाइपलाइन को तबाह करना चाहता है अमेरिका

विदेश – बीते कई महीनों से रूस और युक्रेन के मध्य युद्ध जारी है। युद्ध को रोकने के परिपेक्ष्य में की गई कई बार की वार्ता निष्फल रही है। वही अब रूस के विदेश मंत्रालय ने अमेरिका और नेटो नॉर्ड स्ट्रीम को लेकर बड़ा बयान दिया है।

रूस विदेश मंत्रालय ने कहा है कि अमेरिका और नेटो नॉर्ड स्ट्रीम दो तीन पाइपलाइन को पूर्णतः नष्ट करना चाहते हैं।रूस के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया ज़ाखारोवा ने कहा अभी हाल ही में अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने कनाडाई विदेश मंत्री मेलानी जॉली के साथ प्रेस कॉन्फ़्रेंस में जो कुछ भी कहा उससे उनकी मंशा स्पष्ट हो गई है।

ब्लिंकन ने कहा कि पाइपलाइन से यूरोप में गैस नहीं जा रही है. नॉर्ड स्ट्रीम दो को यूरोप में गैस भेजने के लिए अनुमति नहीं है. नॉर्ड स्ट्रीम एक को रूस ने एक हफ़्ते पहले ही रोक दिया था. ब्लिंकन ने कहा कि रूस ऊर्जा ज़रूरतों को हथियार के तौर पर इस्तेमाल कर रहा है।

रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने कहा, ”रूस ने कभी ऊर्जा को हथियार के तौर पर इस्तेमाल नहीं किया. अभी रूस और पहले सोवियत संघ यूरोप को गैस देते रहे हैं. इसमें कभी कोई रुकावट नहीं आई. पिछले 50 सालों से इस मुद्दे पर अमेरिका झूठ बोलता रहा है.”

नॉर्ड स्ट्रीम एजी कंपनी ने कहा है कि 26 सितंबर को पाइपलाइन को ज़्यादा नुक़सान पहुँचाया गया था. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, नॉर्ड स्ट्रीम पाइपलाइन के पास दो धमाके हुए थे. डेनिश न्यूज़ एजेंसी ने कहा था कि बड़ी मात्रा में गैस समंदर में लीक हुई है. इसके आसपास के इलाक़ों में शिप की आवाजाही रोक दी गई है.

नोट – यह खबर बीबीसी से ली गई है। बोल बिंदास की टीम ने इसमे कोई एडिटिंग नही की है ।

Show More

Related Articles

Back to top button