Breaking NewsLatest Newsदेश - विदेश

महिलाओं के लिए नरक बना है यह देश हर दिन होते हैं 12 रेप, नहीं मिलती आरोपियों को सजा

विदेश– भारत और पाकिस्तान एक साथ आजाद हुए। लेकिन दोनो देशो में जमीन आसमान का अन्तर है। भारत जहाँ हर नागरिक देश के विकास के बारे में सोचता है और भारत मे हर किसी को समान अधिकार दिया गया है। लोग अपनी बात प्रखरता से रख सकते हैं। लोगो के पास आजादी है वह अपने अनुसार अपना जीवन यापन कर सकते हैं।

वही पाकिस्तान के लोगो की जिंदगी आज भी नरक बनी हुई है। यहाँ न तो लोगो के पास प्रखर होकर बोलने का अधिकार है और न ही किसी के पास इतनी आजादी की वह अपना जीवन अपने मुताबिक व्यतीत कर सके। आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान की स्थिति इतनी खराब है कि वहां आज भी महिलाओ का शोषण हो रहा है।

पाकिस्तान में आजभी महिलाएं आजादी के लिए संघर्ष कर रही है। आय दिन महिलाओ के साथ दुर्व्यवहार के मामले सामने आते हैं। वही एक रिपोर्ट में यह दावा किया गया है कि पाकिस्तान में हर 2 घण्टे में एक महिला के साथ दुष्कर्म होता है। लेकिन अपराधियों को सजा नही मिलती।

रिपोर्ट में दावा किया गया है कि पाकिस्तान महिलाओ के न्याय के लिए कुछ नहीं कर रहा है। साल 2017 से 2021 तक देश में 21,900 महिलाओं के साथ रेप की घटनाएं हुईं. अनुमान यदि हम बात करे तो पाकिस्तान में प्रतिदिन 12महिलाओ का रेप किया जाता है और आरोपी छुट्टा घूमते रहते हैं।

रिपोर्ट के अनुसार , 2017 में रेप के लगभग 3327 मामले दर्ज किए गए थे. 2018 में 4456 मामले सामने आए जबकि 2019 में 4573 मामले रिपोर्ट किए गए थे. वहीं 2020 में यह आंकड़ा 4478 तक पहुंच गया जबकि 2021 में रेप के मामले बढ़कर 5169 हो गए।

वहीं, इस साल यानी 2022 में रेप के 305 मामले दर्ज किए गए. इन 305 मामलों में से 57 मामले मई में, 91 मामले जून में, 86 मामले जुलाई में और अगस्त में 71 मामले दर्ज किए गए. सर्वेयर के मुताबिक, वास्तविक मामले इससे और अधिक हो सकते हैं लेकिन महिलाएं सामाजिक कलंक, डर के चलते रिपोर्ट दर्ज नहीं करवाती हैं।

Show More

Related Articles

Back to top button