Monday, December 5, 2022

विदेश में जॉब को लेकर मंत्रालय ने किया आगाह, फर्जी जॉब रैकेट का है मामला

 

MEA issues advisory on fake IT job offers: देश के युवाओं को विदेशों में अच्छी जॉब के नाम पर झांसा देने और फिर बंधक बनाकर गैरकानूनी काम कराने वाले रैकेट से बचाने के लिए विदेश मंत्रालय ने शनिवार को अपने आधिकारिक पेज पर एक एडवाइजरी जारी की है। उन्होंने यह कदम उस मामले को देखते हुए उठाया है, जिसमें म्यांमार में फंसे भारतीयों का एक वीडियो भी सामने आया था। वहीं मीडिया रिपोर्ट की माने तो करीब 300 भारतीयों को म्यांमार के म्यावाडी इलाके में बंधक भी बनाया गया है।

इसी कड़ी में विदेश मंत्रालय ने शनिवार को अपने आधिकारिक पेज पर एडवाइजरी भी जारी की है जिसमें आईटी सेक्टर से जुड़े युवाओं को चेतावनी दी गई है कि वह फर्जी जॉब रैकेट से आने वाले ऑफर्स से खुद को दूर ही रखें। 

वहीं विदेश मंत्रालय के मुताबिक, कॉल सेंटर स्कैम और क्रिप्टो-करंसी फ्रॉड में शामिल संदिग्ध आईटी फर्म भारतीय युवाओं को थाईलैंड, सिंगापुर और म्यांमार में ‘डिजिटल सेल्स और मार्केटिंग एग्जीक्यूटिव’ जैसे पदों के लिए लुभाने की कोशिश भी करती हैं और हमेशा से कर भी रही हैं। .

बता दें कि विदेश मंत्रालय ने एडवाइजरी में सलाह देते हुए कहा है कि “इन फर्मों के निशाने पर आईटी स्किल्ड युवा हैं, जिन्हें सोशल मीडिया विज्ञापन के साथ-साथ दुबई और भारत में मौजूद एजेंटों के माध्यम से थाईलैंड में डेटा एंट्री ऑपरेटर जैसी नौकरियों के नाम ठगा जाता आया है।” मंत्रालय ने आगे कहा कि जब लोग इनके झांसे में आ जाते हैं तो फिर इन सभी को कथित तौर पर सीमा पार से अवैध रूप से म्यांमार भी ले जाया जाता है और विषम परिस्थितियों में काम करने के लिए मजबूर किया जाता है।

विदेश मंत्रालय ने सलाह देते हुए भारतीयों को आगाह किया है कि वे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म या अन्य सोर्स के माध्यम से जारी किए जा रहे ऐसे फर्जी जॉब ऑफर्स के बहकावे में न फसे और यदि वह जाते भी हैं तो पहले ही सभी तरह से जांच-पड़ताल करके जाएं। 

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
3,593FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles