Breaking NewsLatest Newsदेश - विदेश

Chhath puja 2022: भारतीय रेलवे ने दी 250 ट्रेनों की सौगात, जाने किन स्टेशनों पर मिलेगी स्पेशल फेस्टिव सुविधाएं 

 

डेस्क। भारतीय रेलवे ने यात्रियों की अधिक संख्‍या और ट्रेनों की मांग को देखते हुए, इस फेस्टिवल सीजन में पहले से ही सैकड़ों स्‍पेशल ट्रेनों की शुरुआत भी करी है। इसके साथ ही अब केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने जानकारी दी है कि केंद्र ने आगामी छठ पूजा के मद्देनजर 250 से अधिक स्‍पेशल ट्रेनें चलाएगा। साथ ही रेल मंत्री ने कहा कि इसमें यात्रियों को करीब 1.4 लाख बर्थ उपलब्ध भी कराए गए हैं और जो भी जरूरत की चीजों होंगी, वह भी उपलब्‍ध कराई जाएंगी।

वहीं इस फेस्टिवल सीजन में अतिर‍िक्‍त भीड़ को मैनेज करने के लिए भारतीय रेलवे की ओर से ये 250 ट्रेनों का संचालन किया जाएगा, जिसमें पहले से ही चल रहीं 211 स्‍पेशल ट्रेनें भी शामिल होंगी। वहीं ऐसे में अगर आप भी छठ पूजा पर घर जाने का प्‍लान कर रहे हैं, तो इन ट्रेनों में टिकट बुकिंग करा सकते हैं।

वहीं इस महीने की शुरुआत में रेल मंत्रालय ने एक आधिकारिक बयान भी जारी किया है, जिसमें कहा गया था कि भारतीय रेलवे इस त्योहारी सीजन के दौरान यात्रियों के लिए सुगम और आरामदायक यात्रा सुनिश्चित करने के लिए अतिरिक्त 32 विशेष सेवाएं भी चलाएगा। बता दें ये सभी ट्रेनें दरभंगा, आजमगढ़, सहरसा, भागलपुर, मुजफ्फरपुर, फिरोजपुर, पटना, कटिहार और अमृतसर आदि रेलवे मार्गों पर देश भर के प्रमुख जगहों को जोड़ने के लिए चलाई जानी हैं।

वहीं रेलवे मंत्रालय के बयान में यह भी कहा गया है कि स्‍टेशनों की सुरक्षा बढ़ाई गई है। वहीं यात्रियों की उचित सहायता और मार्गदर्शन के लिए आरपीएफ कार्मिक और टीटीई की भी तैनाती हो गई है। स्‍टेशनों पर मेडिकल की टीम भी तैनात है। और पैरामेडिकल टीम के साथ एम्बुलेंस भी यहां उपलब्ध है।

रेल मंत्रालय ने अपने बयान में यह भी जानकारी दी थी कि अनारक्षित डिब्बों में यात्रियों के मैनेज तरीके से एंट्री के लिए आरपीएफ कर्मचारियों की देखरेख में टर्मिनस स्टेशनों पर कतारें लगाकर भीड़ को नियंत्रित भी किया जा रहा है।

बता दें बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को केंद्र से अपील की है कि वे त्योहार के लिए लोगों को छठ पूजा के लिए विशेष ट्रेनें उपलब्ध कराएं। इसके साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर बिहार के मुख्य सचिव ने छठ महापर्व के मद्देनजर विशेष ट्रेनों की संख्या बढ़ाने के लिए रेल मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों से फोन पर बात भी करी।

Show More

Related Articles

Back to top button