राज्य

Kuwait Fire: अबतक इतने भारतीयों की मौत की पुष्टि 

डेस्क। Kuwait Fire: कुवैत में एक इमारत में लगी आग में करीब 40 भारतीयों की मौत हो गई है। इनमें से अधिकतर केरल के निवासी बताए जा रहे हैं। केरल में मृतकों के परिजनों ने शोक मनाना शुरु कर दिया है। इस दौरान, कुछ परिजनों का ये कहना है कि उन्हें अधिकारियों से अभी तक कोई जानकारी नहीं मिली है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, मृतकों में 21 लोग केरल के रहने वाले बताए जा रहे थे।

एक परिजन ने ये बताया कि हम अपने रिश्तेदार को कॉल कर रहे हैं और उसका फोन बज रहा है पर हमें समझ नहीं आ रहा है क्या करें और क्या न करें। मृतकों में पठानमथिट्टा, कोल्लम, कोट्टायम, मलप्पुरम, कन्नूर और कासरगोड जिले के लोग भी शामिल हैं। 

NEET के इन छात्रों को मिलेगा दोबारा एग्जाम देने का मौका 

रंजीत के पूरे गांव में गम 

आपको बता दें, कुवैत में काम कर रहे उत्तरी केरल के रहने वाले रंजीत डेढ़ साल पहले नए घर में गृहप्रवेश के बाद कुवैत चले गए थे। वे जुलाई में छुट्टी पर आने वाले थे पर इमारत में आग लगने की खबर से पूरा गांव सन्न हो गया है। अनौपचारिक रूप से जानकारी भी मिल रही है कि रंजीत की हादसे में मौत हो गई है। गांव के एक व्यक्ति ने यह बताया है कि रंजीत काफी दयालु और भरोसेमंद व्यक्ति थे। वे बीमार माता-पिता की आखिरी उम्मीद भी थे।

दूतावास ने जारी की हेल्पलाइन

ऑनलाइन मंगाई आइस क्रीम में निकली उंगली, कम्पनी पर FIR 

घटना की जानकारी मिलते ही कुवैत में पदस्थ भारत के राजदूत आदर्श स्वैका तुरंत घटनास्थल के लिए रवाना हुए। उन्होंने अस्पतालों का दौरा भी किया। दूतावास ने कहा कि कुवैती अधिकारी मामले में पूरा सहयोग कर रहे हैं और हम लोगों की हर संभव मदद भी कर रहे हैं। इधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर, विदेश राज्यमंत्री कीर्तिवर्धन सिंह पार्थिव शरीर को शीघ्र वापस लाने और घायलों को चिकित्सा सहायता उपलब्ध कराने के लिए कुवैत के लिए रवाना हो रहे हैं। विदेश मंत्रालय के एक बयान में यह कहा गया कि हमारा दूतावास प्रभावित लोगों को राहत प्रदान करने के लिए स्थानीय अधिकारियों से लगातार संपर्क में बना हुआ है। दूतावास ने +965-65505246 (व्हाट्सएप और नियमित कॉल) हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है। हेल्पलाइन के माध्यम से नियमित अपडेट भी प्रदान किए जा रहे हैं।

Related Posts

1 of 770