धर्म

Makar Sankranti 2023: इस दिन क्या करें और क्या करने पर है पाबंदी

 

डेस्क। मकर संक्रांति का पर्व पूरे देश में बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है वहीं ऐसी मान्यता है कि इस दिन सूर्य देव मकर राशि में प्रवेश भी करते हैं और इसी वजह से इस पर्व को मकर संक्रांति के नाम से जाना भी जाता है। आज हम आपको इससे जुड़ी ही कुछ जानकारियां देगें।

जानिए मकर संक्रांति के दिन क्या करें :

इस दिन गंगा जैसी किसी पवित्र नदी में स्नान करने से आपको समस्त पापों से मुक्ति मिलती है और सभी मनोकामनाओं की भी पूर्ति होती है। वहीं अगर आप नदी में स्नान करने बाहर नहीं जा पा रहे हैं तो आप नहाने के पानी में गंगाजल की कुछ बूंदें डालकर स्नान भी कर सकते हैं। वहीं मकर संक्रांति के दिन मुख्य रूप से दाल और चावल से बनी खिचड़ी का दान करना शुभ होता है। और इस दिन आप यदि खिचड़ी बनाकर गरीबों को दान करेंगे और इसका सेवन करेंगे तो आपके जीवन के लिए फलदायी भी होगा।

वहीं इस दिन खिचड़ी खाना बहुत ही शुभ माना जाता है। और मकर संक्रांति के दिन यदि आप सूर्य को अर्घ्य देते हैं तो आपके लिए बहुत शुभ माना भी जाता है। सूर्य को जल देते समय आदित्य ह्रदय स्तोत्र का पाठ भी करें। सूर्य को जल देते समय पानी में कुमकुम और काले तिल भी जरूर मिलाएं।

मकर संक्रांति के दिन क्या करें और ना करें :मकर संक्रांति के दिन गलती से भी नॉन वेज भोजन (नॉनवेज, लहसुन-प्‍याज) और शराब को हाथ न लगाएं वहीं मकर संक्रांति का दिन बेहद पवित्र भी माना गया है, इस दिन पवित्र नदियों में स्‍नान भी करते हैं। वहीं इस दिन शराब-नॉनवेज का सेवन पाप का भागी बनाएंगा और जीवन में कष्ट भी देगा। 

साथ ही मकर संक्रांति के दिन दान करने का बहुत महत्‍व होता है। वहीं खासतौर पर तिल-गुड़, खिचड़ी का दान करना चाहिए और दान करने से ग्रह शुभ भी फल देने लगेंगे। साथ ही काले तिल और गुड़ का दान शनि देव और सूर्य देव की कृपा भी दिलाएगा। साथ ही आज के दिन घी में खिचड़ी बना कर दान करें वहीं मकर संक्रांति के दिन बिना नहाएं और दान किए भोजन ग्रहण भी न करें। वहीं स्‍नान के लिए पानी में पवित्र नदियों का जल भी आप मिला सकते हैं और आज के दिन खास कर सबसे पहले मां सरस्वती के सामने माथा भी झुकाएं।

Show More

Related Articles

Back to top button