राजनीति

सेवा ही मेरा धर्म है मुझसे अधिक भाग्यशाली कौन है- अशोक गहलोत

देश– राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने स्वयं को भाग्यशाली बताते हुए कहा है कि मुझे जितना जनता का प्यार मिला है वह काफी है। मेरा उद्देश्य राजस्थान का विकास हो और आम जनमानस का भला हो यही है।

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा- मुझसे बड़ा सौभाग्यशाली व्यक्ति कोई हो सकता है क्या जिसको जनता ने इतना प्यार दिया, विश्वास किया हाईकमान ने, मैं इंदिरा गांधी जी के साथ में मंत्री था, राजीवजी के साथ में मंत्री था, नरसिम्हा राव जी के साथ में मंत्री था, 3 बार केंद्रीय मंत्री, 3 बार प्रदेश कांग्रेस का अध्यक्ष रहा।

3 बार मैं एआईसीसी का महामंत्री और 3 बार मुख्यमंत्री, इतना विश्वास मुझ पर हाईकमान कर रहे है, इसलिए कर रहे है कि राजस्थान के लोगों का प्यार, दुलार, आशीर्वाद मेरे साथ में है और मैंने संकल्प ले रखा है.. अंतिम सांस तक जो मेरा सेवा करने का संकल्प है कि सेवा ही कर्म है, सेवा ही धर्म है।

अंतिम व्यक्ति जो गांधी जी ने कहा था उसी ढंग से मेरा प्रयास रहेगा कि राजस्थान के हर गरीब के आंसू पोंछूं, चाहे कोई कौम का हो, कोई धर्म का हो, चाहे कोई भी हों। मेरा फर्ज बनता है कि मैं वो सुशासन दूं राजस्थान में जिससे सबका भला हो और राजस्थान का विकास हो।

Show More

Related Articles

Back to top button