इतिहास के पन्ने

जानें क्यों संयुक्त राष्ट्र ने लगाई पाकिस्तान को फटकार

विदेश- अपनी कट्टरपंथी विचारधारा के लिए विख्यात पाकिस्तान के मंसूबे एक बार पुनः वैश्विक स्तर पर उजागर हो गए हैं। संयुक्त राष्ट्र ने पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों के साथ हो रहे दुर्व्यवहार पर चिंता जाहिर की है। 

संयुक्त राष्ट्र ने कहा, पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों पर अत्याचार, महिलाओं का उत्पीड़न, बलात्कार, धर्मांतरण और अपहरण की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। यह चिंता का विषय है। पाकिस्तान को तत्काल रूप से इसे सुधारने के लिए कदम उठाने चाहिए।

विशेषज्ञों ने कहा कि हम पाकिस्तान सरकार से इन कृत्यों को निष्पक्ष रूप से घरेलू कानून और अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार प्रतिबद्धताओं के अनुरूप रोकने और पूरी तरह से जांच करने के लिए तत्काल कदम उठाने का आग्रह करते हैं। अपराधियों को पूरी तरह से जवाबदेह ठहराया जाना चाहिए। 

उन्होंने आगे कहा, पाक में अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार नियमों का उल्लंघन हो रहा है। नाबालिग लड़कियों के साथ अत्याचार बढ़ते जा रहे हैं। उनकी शादी उनसे दो गुना उम्र के पुरुष से की जा रही है। यह वास्तव में चिंता का विषय है। पाक को जल्द से जल्द इसे खत्म करने के लिए प्रयास करना चाहिए।

वह यहीं नहीं रुके उन्होंने इन तथाकथित विवाहों और धर्मांतरण में धार्मिक अधिकारियों की संलिप्तता और सुरक्षा बलों और न्याय प्रणाली की मिलीभगत का आरोप लगाने वाली रिपोर्टों पर भी प्रकाश डाला।

Show More

Related Articles

Back to top button