देश - विदेश

युक्रेन की बढ़ जाएंगी मुसीबते रूस ने पेश किया अपना सबसे पावरफुल हथियार 

 

डेस्क। Russia Su 57 Jets: नये साल के शुरू होते ही रूस ने यूक्रेन पर हमला तेज कर दिया है वहीं इस वक्त रूसी सैनिक और मिसाइलें यूक्रेन पर कहर बनकर टूट भी रही हैं।

साथ ही यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की (Volodymyr Zelenskyy) इस वक्त अपनी जनता की चिंता छोड़ पश्चिमी देशों के चक्कर में पूरी तरह से फंसे हुए हैं। साथ ही ऐसे में अब एक खबर सामने ये भी आ रही है कि रूस की सेना ने यूक्रेन की जंग में अपने सबसे खतरनाक हवाई योद्धा को जंग के मैदान में पेश कर दिया है। ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय ने खुफिया सूत्रों के हवाले से खुलासा किया है कि रूस अब सुखोई-57 फाइटर जेट के जरिए यूक्रेन में हमले भी कर रहा है। 

वहीं ऐसा पहली बार नहीं है जब यह दावा किया गया है कि रूस अब सुखोई-57 फाइटर जेट के जरिए हमला कर रहा है आपको बता दें, सुखोई-57 रूस का सबसे खतरनाक फाइटर जेट है जो पांचवीं पीढ़ी का फाइटर जेट भी माना जाता है।

सुखोई-57 का उपयोग करीब जून 2022 से किया जा रहा है और अब अनाम रक्षा सूत्रों ने इसकी पुष्टि की तो रक्षा मंत्रालय ने अपने आकलन में कहा कि रूस के ये सुखोई-57 फाइटर जेट अभी रूस के हवाई क्षेत्र में उड़ रहे हैं साथ ही वो रूस से यूक्रेन पर मिसाइलों की बारिश भी कर रहे हैं।’ उसने यह भी कहा कि यही वजह है कि इन रूसी विमानों के उड़ान की पुष्टि अभी स्‍वतंत्र रूप से नहीं हो सकी है।

रूस को है डर

रूस का यह अखतूबिंस्‍क एयरबेस कई तरह के रूसी हथियारों का ठिकाना है वहीं यह एकमात्र ऐसा एयरबेस नहीं है जहां सुखोई-57 विमानों को तैनात किया जा सकता है। बता दें विशेषज्ञों के मुताबिक रूस जानबूझकर यूक्रेन की सीमा के अंदर अपने इस सबसे घातक फाइटर जेट को नहीं उतार रहा है। वहीं रूस को यह डर भी सता रहा है कि पश्चिमी देश उसके इस पांचवीं पीढ़ी के पहले फाइटर जेट के सीक्रेट को भी जान जाएंगे। वहीं रूस ने अमेरिका के एफ-35 फाइटर जेट को मात देने के लिए इस सुखोई-57 का निर्माण भी किया है। यह फाइटर जेट रेडार की पकड़ में नहीं आता है और परमाणु बम भी गिराने की ताकत रखता है और इतना ही नहीं इसे किसी मिसाइल हमले में मार गिराना भी आसान नहीं होता है।

Show More

Related Articles

Back to top button