देश - विदेश

क्या आप भी देखते हैं एडल्ट कंटेंट तो हो जाइए सावधान 

 

डेस्क। देश में एडल्ट कंटेंट पर बैन है वहीं इसके बावजूद बहुत से लोग इस तरह का कंटेंट अपने मोबाइल पर देखते हैं बता दें अक्सर लोग अकेले में चोरी छिपे इस तरह के वीडियो को देखते हैं। कई लोग प्राइवेड मोड़ पर ऐसे वीडियो और कंटेंट को एक्सेस करते हैं।

उनको ऐसा भी लगता है कि इस तरह से वीडियो देखने पर किसी को पता नहीं चलेगा लेकिन सच्चाई इतनी कड़वी है कि सुनने के बाद आपके होश उड़ जाएंगे। वहीं जब आप एडल्ट कंटेंट देख रहे होते हैं तो उस वक्त आप पर हजारों एआई बॉट की नजर होती है।

ऐप्स ऐसे रखते हैं नजर

जब भी आप अपने मोबाइल पर एडल्ट कंटेंट देखते हैं तो इसकी जानकारी सबसे पहले आपके मोबाइल सर्विस ऑपरेटर को दी जाती है। वहीं इसके साथ ही आपके फोन में मौजूद ऐप्स भी आप पर नजर रख रहे होते हैं।

इसके अलावा फोन में इंस्टॉल ऐप्स इस तरह का कंटेंट देखने के दौरान आप पर किसी खुफिया एजेंसी की तरह नजर रखते हैं और उस वक्त आपकी पूरी ब्राउजिंग हिस्ट्री को ट्रैक भी किया जा रहा होता है।

इस रिपोर्ट के अनुसार, आपकी सोशल मीडिया प्रोफाइल को भी खंगाला जाता है और इसके बाद यह तय किया जाता है कि आपको कौन-सा विज्ञापन दिखाया जाए। वहीं कोई एडल्ट कंटेंट का आदी है तो उसको इससे जुड़े विज्ञापन भी दिखाए जाते हैं। साथ हीं जो लोग ऐसा कंटेंट देखने के लिए पेड सर्विस लेते है, वे सबसे पहले निशाने पर होते हैं और ऐसे लोगों से उनके बैंक अकाउंट की डिटेल उसी समय ले जाती है, जब वे पेमेंट कर रहे होते हो। ऐसे में उनके क्रेडिट या डेबिट कार्ड का गलत इस्तेमाल भी होता है।

फोन में एंटर हो सकता है वायरस

अगर आप मोबाइल में एडल्ट कंटेंट देख रहे हैं या डाउनलोड भी कर रहें हैं तो ऐसे कंटेंट के जरिए आपके मोबाइल में मैलवेयर या वायरस भी इन्सर्ट किया जा सकता है। इसी मैलवेयर के जरिए बाद में आपकी जासूसी भी की जा सकती है और आपके निजी फोटो को भी सार्वजनिक करने की धमकी देकर आपको ब्लैकमेल किया जा सकता है। वहीं वर्ष 2018 में Kaspersky Lab की रिपोर्ट के मुताबिक करीब 12 लाख एंड्रॉयड यूजर्स एडल्ट कंटेंट देखने की वजह से मैलवेयर से प्रभावित भी हुए थे।

Show More

Related Articles

Back to top button